बुआ ने दिखाई जन्नत : उसकी सैर किया (भाग – २)

Posted on

डियर फ्रेंडस,
राहुल मात्र १९ साल का जवान लड़का है जब वो अपनी बुआ बिनीता के संग सहवास सुख ले रहा है तो बिनीता २८-२९ साल की शादीशुदा महिला लेकिन उसके गोरे चेहरे से लेकर उफान लेती चूचियां जानलेवा हैं, उनके जिस्म के हरेक अंग सेक्सी और शेप में हैं तो वो ७ साल के बच्चे की मां है पर उसके चूतड की गोलाई हो या पेट और कमर का भाग बिलकुल ही मांस के लोथड़े से मुक्त और उनके पहनावे से लेकर लेट नाईट पार्टी पर फूफा जी का कोई रोक टोक नहीं है तो उनके गुलाबी रसीले ओंठ और बलखाती कमर मुझे हमेशा से पसंद है लेकिन एक बार संयोगवश उन्हें मैं कपड़ा बदलते उनके ही घर में देख लिया था तो हम दोनों के जिस्मानी सम्बन्ध वहां पनपे, लेकिन जबतक बुआ लखनऊ में थी तब तक दोनों की मुलाकात होती थी तो हम दोनों के बीच संभोग सुख भी होता रहता था। पिछले भाग में आपने पढ़ा कि कैसे मैं दिल्ली के उनके फ्लैट गया और वहां दोनों के बीच झट से शारीरिक संबंध बन गया तो उनके स्तनपान करके मैं उनकी नशीली चुत को भी चाटकर पनिया दिया और फिर उनको घोड़ी बनाकर चोदा, लेकिन ये तो शुरुवात थी और मैं हमेशा से पहली चुदाई करते वक़्त जल्दी झड़ जाता था तो दूसरे राउंड में देर तक चुदाई कर औरत की चुत को तृप्त करता था। मैं नग्न हाल में वाशरूम जाकर फ्रेश हुआ फिर बुआ की बेड पर ही लेट गया तो बिनीता फ्रेश होकर एक नाईटी तन पर डाले मेरे बगल में लेट गई और मेरे छाती को सहलाते हुए पूछी ” राहुल ये बताओ कि तुम्हारा छोटू कब तक उठेगा
( में उनके इशारे को समझ चेहरा को चूम लिया ) बेबी, ये तो तुम्हारे पर है कि मुझे कब तक और कैसे गरम कर पाओगी
( वो मेरे चेहरा को सहलाने लगी ) घर में वाईन तो है, पिएगा
( मैं उनकी चूची दबाने लगा ) क्यों नहीं रानी, ड्रिंक्स के बाद ही मेरी शैतान जागेगी और तेरी मस्त चुदाई करूंगा
( वो हंसने लगी ) ठीक है, तो तुम आराम कर मैं यहीं ड्रिंक्स लेकर आती हूं ” वो मेरे सामने से चली गई तो मैं एक टॉवेल कमर से लपेट लेटा रहा तो इंतजार था बुआ की छलकती जवानी का रस पीना लेकिन वाईन कि पैक के साथ, पल भर बाद बिनीता बेडरूम आई तो उनके हाथ में दो गलास थी, वो बेड पर बैठने से पहले मुझे गलास दे दी फिर उसने खड़े खड़े अपने नाईटी को उतार दिया ” अब ठीक है राहुल
( मैं मुस्कुराने लगा ) हां सेक्सी, तुम्हें तो कपड़ों में देखकर भी लंड टाईट हो जाता है
( वो मेरे सामने आकर बैठी और दोनों ड्रिंक्स लेने लगे ) वो तो है, तेरी बड़ी बहन दीपा का क्या हाल चाल है
( मैं ) ठीक ही है फिलहाल जीजा बाहर हैं तो मैं उनकी देखभाल करने यहां आया हूं
( दोनों ड्रिंक्स लेते हुए ) ओह तो मैं क्या तुम्हें बेवकूफ लगती हूं
( मैं बिनीता की जांघ पर हाथ फेरने लगा ) नहीं लेकिन ऐसा आप क्यों बोल रही हैं
( बुआ गलास मेरे हाथ से लेकर जमीन पर रखी फिर मेरे छाती को सहलाते हुए ओंठ चूमने लगी ) राहुल, तेरी शादीशुदा बहन तुझसे ही चुदवाकर सील तुड़वाई क्यों सही है ” मैं चुप रहा और दो नग्न जिस्म एक होने को तरस रहे थे।
राहुल अपनी बुआ को गोद में बिठा लिया तो बिनीता अपनी चूची मेरे छाती से चिपकाए मेरे ओंठ चूमने लगी और मेरा हाथ उसके नग्न पीठ पर फिसलने लगा पर झट से बुआ मेरे ओंठ मुंह में लिए चूसने लगी तो उनके चूतड पर हाथ फेरता हुआ मैं पीछे की ओर से ही चुत में उंगली पेलना चाहता था। मेरे ओंठ चूसकर बिनीता अपनी जीभ मेरे ओंठ पर फेरने लगी तो मेरा हाथ उसकी गान्ड के नीचे पहुंच चुका था, वो दोनो पैर दो दिशा में किए मेरे कमर से लपेट रखी थी तो उसके फैले जांघों के बीच वो भी पीछे की ओर से चुत तक जाना आसान था और मैं मुंह खोल बिनीता के जीभ को अंदर लिया फिर चूसने लगा तो मेरी उंगली उनके फैले फांकों के बीच घूम रही थी। बिनीता २८-२९ साल की खूबसूरत औरत है तो उसकी जीभ चूसता हुआ स्तन का दबाव अपनी छाती पर पाकर मस्त हो रहा था तो उनकी बंद आंखें, तेज सांसें और सांसों कि खुशबू मुझे कामुक कर रही थी, पल भर बाद बिनीता मेरे मुंह से अपना जीभ निकालकर मुझे बेड पर लिटा दी और दोनों ड्रिंक्स लेकर नशे में झूम रहे थे, उसके स्तन को दबाने लगा तो वो मेरे चेहरा को चूमने लगी। बिनीता मेरे नंगे बदन को किस्स कर रही थी तो उसके रसीले ओंठ का चुम्बन पाकर मेरी छाती को सुखद अनुभूति हो रही थी तो उसके बूब्स को दबाता हुआ मैं मस्त था, बुआ मेरे पेट से कमर तक को चूमने लगी तो अब मेरे लंड में थोड़ी जान आने लगी और वो मेरे कमर चूमकर मेरी ओर देख बोली ” जरा तकिया बढ़ाना राहुल ” मैं पास पड़े तकिया उन्हें दिया और वो मेरे गान्ड के नीचे तकिया डालकर मेरे दोनों जांघों को फैला दी और उनकी उंगली मेरे गान्ड की छेद पर घूमने लगा ” ये क्या बुआ
( वो हंसने लगी ) तेरी गान्ड चाटूंगा तभी तो तेरा लंड जल्दी खड़ा होगा ” मैं किसी राजकुमार की तरह लेटा रहा तो मेरी दासी मेरे गान्ड के छेद को फैलाकर जीभ से चाटने लगी, उनका लंबा सा जीभ गान्ड की छेद को चाटता हुआ अंदर तक जाने लगा तो मेरे लंड की अकड़ बरकरार होने लगी। बुआ की लम्बी जीभ मेरे गान्ड चाटते हुए लंड को पकड़ सहलाने लगी तो मैं ” उह ओह बेबी, और चाट मेरी गान्ड साली
( वो गान्ड से जीभ निकालकर अपनी एक उंगली घुसा दी ) अब देख गान्ड में उंगली का आनंद, फिर तेरा लंड टाईट और मेरी चुदाई शुरू
( मैं ) नो बेबी, पहले लंड तो तू चूसेगी फिर मैं तेरी चुत चाटूंगा फिर चुदाई नहीं बेबी, तेरी गान्ड चोदूंगा ” तो बिनीता मेरे गान्ड से उंगली निकाल वाशरूम चली गई तो मेरे लंड में तनाव आ चुका था। मैं उठकर वाशरूम घुसा तो वो अपनी चुत पर शेपुं कर रही थी, मैं मूतने के बाद फ्रेश हुआ फिर वापस बेडरूम आ गया और कमर से टॉवेल लपेट बेड के किनारे पर बैठा रहा, वो उधर से नंगे ही आई और बोली ” क्या हुआ बेड पर बैठे हो
( मैं बोला ) हां, एक पैक और पीना है ” तो दोनों एक दूसरे के हाथ पकड़े डायनिंग हॉल आए फिर बिनीता अपने किचन की ओर गई तो उनके दोनों गद्देदार चूतड़ की लचक देख लंड दहाड़ने लगा और वो वापस आकर टेबल पर गलास और शराब की बोतल रखी, मेरे बगल में बैठकर बोली ” चल अब तू मेरी चुत चाट और मैं ड्रिंक्स तैयार करती हूं ” तो मेरे मन की इच्छा बिनीता के चुत चाटने की हुईं और मैं जमीन पर बैठकर बिनीता की जांघों को फैलाया। बुआ गलास में व्हिस्की और सोडा डालने लगी तो मैं उनके कमर में हाथ डाले उनको आगे की ओर खींचा ” अबे कुत्ते क्या कर रहा है
( मैं उसके जांघ को चूमने लगा ) चुप कर साली रण्डी ” फिर वो एक गलास मूहे बढ़ाई, खुद अपने घुटने मोड़ दोनों पैर सोफ़ा पर रखकर जांघें पूरी तरह से फैला दी तो उनकी चुत पर चुम्बन देते हुए जांघ सहलाने लगा और बिनीता किसी महारानी की तरह ड्रिंक्स लेते हुए ” अब चुत में पूरा जीभ पेलकर चाट
( मैं उनकी चुत को उंगली से फैलाकर बोला ) क्या फूफाजी तेरी बुर चाटते हैं
( वो मुस्कराने लगी और मैं उनकी बुर को जीभ से चाटने लगा ) तेरा फूफा साला बूढ़ा हो गया है उसे तो बस गान्ड चोदने की ताकत है ” तो उसकी चुत चाटता हुआ अंदर की खुशबू ले रहा था और एक चूची को जोर जोर से दबाने लगा, वो गलास टेबल पर रख मेरे बाल को पकड़े चेहरा चुत की ओर धंसाने लगी और पल भर चुत चाटकर मैं ड्रिंक्स लेने लगा तो बुआ हंसकर बोली ” चल अब तू बैठ यहां मैं तेरा लंड चुसुंगी ” फिर मैं सोफ़ा पर बैठ गया तो बिनीता ड्रिंक्स लेकर मेरे पैर के पास बैठी और अब मेरा लंड चुदाई के लिए तैयार था। वो मुझसे नजर मिलाते हुए लंड के सुपाड़ा पर थोड़ी ड्रिंक्स गिरा दी फिर जीभ से मेरे सुपाड़ा को चाटते हुए मस्त थी तो मैं उसके बाल पकड़कर उसके मुंह में लंड घुसाने लगा, साली पूरा लंड मुंह में डाले चूसने लगी तो मेरा लंड टाईट होने लगा, मेरा एक हाथ उसके सर पर था तो दूसरा हाथ चूची की मुलायम भाग को दबाने लगा और झट से बिनीता अपने सर का झटका देते हुए मुखमैथुन करने लगी तो मैं ” उह ओह बुआ तुम तो मेरा लंड झाड़कर ही दम लोगी ” कुछ देर तक बिनीता मेरे लंड चूस चूसकर लाल कर दी तो मेरा मन अब उनकी गांड़ चुदाई की होने लगी, फिर मैं बिनीता को लेकर बेड पर आया तो वो खुद ही डॉगी स्टाइल में होकर अपना चूतड़ चमकाने लगी और मैं उनके गान्ड के सामने लंड पकड़े बैठा हुआ दोनों छेद को देखता हुआ आखिरकार गान्ड के मुहाने पर थूका, उंगली से मालिश करने लगा और फिर सुपाड़ा अंदर घुसाने लगा तो लंड का आधा हिस्सा अंदर एक ही सांस में घुसेड़ कर थोड़ा रुका, ये तो गान्ड का संकीर्ण मार्ग है और राहुल उसकी कमर पकड़े जोर से लंड पेला तो लगा मानो गान्ड की मार्ग चरक कर फट गई और बिनीता की सेक्सी चींखें ” उह ओह माई गॉड, फट गई रे जरा आराम से
( मैं गान्ड को धीमे गति से चोदता रहा ) बुआ तू रेगुलर गान्ड नहीं चुद्वाती
( वो पीछे मुड़कर देखी ) तेरे फूफा तो सिर्फ गान्ड ही चोदते हैं उनको तो मेरी बुर कोई फैली गुफा लगती है ” मेरा लन्ड गान्ड के तंग रास्ते को कुछ हद तक चिकना बना चुका था तो अब मैं दे दनादन गान्ड चोदता हुआ उसके एक बूब्स पकड़ दबाने लगा और बिनीता ” उह ओह बहुत लहर रही है, तुम तेल डालकर चोदते फिर देखते बुआ की गान्ड चोदने का मजा
( मैं उनके स्तन दबाता हुआ ) अगली बार ” तो उसकी गान्ड की छेद और गर्मी में मेरा लन्ड देर तक टिकने वाला नहीं था और मैं पूरे गति से गान्ड चोदने में लीन था तो बिनीता अब अपने कमर हिलाने लगी ” प्लीज़ राहुल अब मेरी गान्ड को गीला कर अंदर की आग बुझा दो “, मैं अब लंड की रगड़ दे देकर वीर्यपात की ओर जा रहा था फिर उसकी गान्ड में वीर्य स्खलित कर शांत पड़ गया।

This story बुआ ने दिखाई जन्नत : उसकी सैर किया (भाग – २) appeared first on new sex story dot com

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments