Skip to content

Maami aur uski beti ki sath chudai – group sex story in hindi

हैल्लो दोस्तों.. मेरा नाम निशान है और मेरी उम्र 24 साल है. में पुणे का रहने वाला हूँ. दोस्तों में आपको मेरी मामी अंजू और मामी की लड़की निक्की के साथ चुदाई का अनुभव बताने जा रहा हूँ. अब में आपका समय ख़राब ना करते हुये सीधे कहानी पर आता हूँ. में इंजीनियरिंग Ist ईयर का स्टूडेंट हूँ. यह बात मेरी छुट्टियों की है..

यह बात ऐसे शुरू हुई कि छुट्टियों के दौरान मैंने अंजू मामी को और निक्की को बहुत बार चोदा था.. लेकिन दोनों को साथ में चोदने का मौका तो नहीं मिला था. में उसी मौके का बेसब्री से इंतजार कर रहा था. वैसे तो 12वीं क्लास में अच्छे मार्क्स लाने की वजह से मेरा दाखिला इंजिनियरिंग कॉलेज में हुआ था और मैंने पास की सिटी में कॉलेज जॉइन किया था.

फिलहाल कॉलेज पर आना जाना चालू हुआ.. वो कॉलेज मेरे मामा के घर के नज़दीक में ही था.. तो जब भी मुझे अवसर मिलता था तो में मामा के घर चला जाता था. दोस्तों एक बार निक्की को चोदते वक़्त मेरी अंजू मामी मतलब उसकी मम्मी ने देख लिया था और बाद में मैंने अंजू मामी के साथ भी ट्रेन में सेक्स किया था.. तो एक दिन ऐसे ही दोपहर में मामा के घर पहुँचा. शनिवार का दिन था..

दोपहर के 2 बजे घर पहुँचा. घर में निक्की उसके रूम में अपनी चूत को सहला रही थी और मुझे बार बार फोन करके घर पर सेक्स करने को बुला रही थी. फिर जब में पहुँचा.. तो निक्की एक केले को अपनी चूत में अंदर बाहर कर रही थी.. साथ ही साथ ब्लू फिल्म देखना भी जारी था. फिर में जैसे ही रूम में गया. मैंने सीधे जाकर निक्की के बेड पर उसे लंबा किस किया और उसके बूब्स दबाने लगा.. वो सेक्स की भावना से तड़प उठी और में उसे किस करता रहा और वो अपने एक हाथ से केले को उसकी चूत में डाल रही थी.

फिर बाद में मैंने उसके हाथ से वो केला लिया और केले को खाने लगा और कुछ केला उसे भी खिला दिया. उसके बाद उसने सिर्फ नाईटी पहना हुआ था. फिर मैंने उसकी नाईटी को उसके शरीर से अलग कर दिया. अब निक्की मेरे सामने बिल्कुल नंगी खड़ी थी. फिर में उसके बूब्स को चाटने लगा और एक हाथ से बूब्स दबाने लगा.. साथ ही साथ निक्की अपनी चूत पर मेरे लंड को सहलाने लगी. मुझे भी अब कंट्रोल नहीं हो रहा था. फिर मैंने निक्की को बोला कि जाओ और अपने घर के गेट को लॉक लगा के आओ.. तो वो बोली कि आज माँ यानि अंजू मामी बाहर गयी है और जल्दी आने वाली नहीं है.

फिर में गेट बंद करने बाहर गया.. तो मैंने अंजू मामी को फोन लगाया और बोला कि अंजू किधर है.. तो अंजू मामी ने रिप्लाई दिया कि वो किसी मीटिंग में व्यस्त है. फिर मैंने उससे बोला कि में अभी तुम्हे चोदना चाहता हूँ.. तो अंजू मामी बोली कि तुम इंतज़ार करो.. में 15 मिनट में घर आती हूँ.. तो में मन ही मन में बहुत ही खुश हो गया. आख़िरकार वो दिन आ ही गया कि जिस दिन में दोनों को साथ साथ चोदने का आनंद लेने वाला था और में गेट बंद करके अंदर आ गया. उस टाईम गेट की दूसरी चाबी अंजू मामी के पास थी.

फिर मैंने अपने सेल फोन से उसे मैसेज किया कि में आज तुम दोनों माँ–बेटी की चूत फाड़ने वाला हूँ.. तो वहां से अंजू ने रिप्लाई किया कि में तैयार हूँ और फिर में अंदर आकर निक्की के पास बैठा और निक्की ने कुछ रोमेंटिक गाने चालू कर दिए और हमने साथ साथ डांस भी किया.

उस दौरान 15-20 मिनट गुजर चुके होंगे.. तो अंजू मामी भी घर पहुँच गयी और वो अपने साथ कुछ खाने के लिए पिज़्ज़ा और कोल्ड ड्रिंक्स लेकर आई थी. आज अंजू अपनी बेटी के साथ मुझसे चुदने वाली थी.. वैसे तो निक्की इस बात से पूरी तरह अंजान थी कि में उसकी माँ अंजू को भी चोद चुका हूँ.. तो जैसे ही अंजू घर में अंदर आई.. तो उसने मुझे मिस कॉल कर दिया. उसके मिस कॉल को देखकर में समझ गया कि अंजू घर में आ चुकी है.. तो में पानी पीने के बहाने अंदर किचन में चला गया.. वहां जाते ही मैंने अंजू मामी को एक जोर से किस कर दिया. फिर उसने पूछा कि निक्की किधर है. फिर मैंने कहा कि तुम्हारी गुड़िया अंदर है.. तो हमने मिलकर एक प्लान बनाया कि निक्की को चोदते समय अंजू मामी हमे रंगे हाथ पकड़ेगी और बाद में कुछ तो सजा देगी.

फिर यह प्लान बना के में अंदर चला गया.. मेरे अंदर जाते ही निक्की ने मेरी जीन्स निकाल दी और मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया और लंड मुँह में लेकर आइसक्रीम जैसे चाटने लगी और अपनी चूत पर हाथ फेरने लगी और अपनी चूत पर वैसलीन लगा लिया और मेरे लंड पर भी वैसलीन लगा दिया. अब निक्की मुझसे चुदने को पूरी तरह से तैयार थी. फिर मैंने अपने लंड का सुपाड़ा एक झटके में निक्की की चूत में डाल दिया और जोरदार धक्के देने लगा. उस दौरान प्लान के मुताबिक अंजू मामी अंदर आ गई और सेक्स करते दौरान कुछ टाईम में पकड़े जाने से निक्की हड़बड़ा उठी और उसने जल्दी से उठकर अपनी नाईटी पहन ली. अंजू मामी हम दोनों को डांटने लगी.. उसकी इस हरकत से निक्की रोने लगी.

में निक्की के पास गया और उससे अपनी बाहों में पकड़ लिया.. निक्की ने मुझे दूर कर दिया. अब अंजू मामी मुझे बोली कि में अभी तुम्हारी शिकायत तुमारे मामा और निक्की के पापा से करती हूँ. यह सुनकर निक्की की तो अब पूरी फट चुकी थी.. मेरे मामा स्वभाव के बहुत ही तेज थे और यह सुनकर दोनों को मार सकते थे. फिर मैंने प्लान के मुताबिक अंजू मामी को झूठी रिक्वेस्ट की और बोला कि वो ऐसा कुछ भी ना करे.. आप दूसरी कोई भी सजा दोगे तो वो हमें मंजूर है.. तो अंजू आंटी ने निक्की को डांटते हुये पूछा कि कबूल है? तो निक्की भी बोली कबूल है..

फिर अंजू मामी ने मुझसे कहा कि यहाँ मेरे नज़दीक आओ.. तो में मामी के नज़दीक पहुँच गया.. फिर अंजू मामी ने मुझे कहा कि मेरे कपड़े उतारो. यह सुनकर निक्की हैरान हो गयी.. वैसे मैंने झट से अंजू मामी की साड़ी उसके बदन से उतार दी. बाद में उसने कहा कि मेरे ब्लाउज को अपने हाथ से खोलो. यह सुनकर निक्की के बूब्स दो गुना बड़े हो गये.. वो चुपचाप सब देख रही थी. फिर मैंने अपने हाथ से एक एक करके उसके ब्लाउज के हुक खोलना चालू कर दिया. इस दौरान अंजू मामी ने निक्की को डाटते हुये कहाँ कि उसकी नाईटी उतार दिया जाये.. तो निक्की ने झट से अपनी नाईटी उतार दी.

अब मैंने भी उसके ब्लाउज के हुक खोल दिये. बाद में अंजू ने मुझे नज़दीक बुला के मेरे लिप्स पर किस कर दिया और मुझे ऑर्डर दिया कि जो तुम्हारा और निक्की का चुदाई प्रोग्राम चल रहा है.. वो चालू कर दो. फिर में निक्की के पास पहुँच गया. निक्की अब पूरी तरह से हैरान हो गयी थी.. उसकी माँ को क्या हो गया है? लेकिन वो ऑर्डर फॉलो करने के अलावा कुछ कर नहीं सकती थी.. वो झट से अपने बेड पर लेट गयी.

मैंने फिर से अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया.. हमारा सेक्स प्रोग्राम निक्की के बेड पर चल रहा था.. वहां अंजू मामी पहुँच गयी. उसने अपनी ब्रा और पेंटी निकाल दी और अपनी गुड़िया की चुदाई देख के अपनी चूत में उंगली करने लगी. उसने मुझे ऑर्डर दिया कि उसकी ब्रा निकाल दो. फिर मैंने निक्की को चोदने के दौरान उसकी ब्रा को निकाल दिया और अंजू के बूब्स को चाटने लगा. अब निक्की को कुछ समझ नहीं आ रहा था. वैसे तो मेरा वीर्य उसकी चूत में निकलने ही वाला था.. तो अंजू मामी ने झट से मेरा लंड अपने मुँह में लेकर ज़ोर ज़ोर से चूसने लगी और में भी निक्की को किस करने लगा और उसके बूब्स दबाने लगा.. बाद में और अंजू मामी दोनों हंसने लगे.

अब मैंने खुद ही सब सच्चाई निक्की को बता दी कि कैसे मैंने उसकी माँ को चोदा. यह सुनकर उसके मुँह पर भी एक चमक सी छा गयी. अब दोनों माँ-बेटी एक दुसरे को हग करने लगे. अब मेरा लंड दोनों की चूत और गांड मारने के लिए तैयार था.. वैसे तो अंजू मामी और निक्की दोनों ही सेक्सी टाईप की थी और दोनों ही मुझसे चुदने के लिए हमेशा तैयार थी.

फिर हम तीनों लोगों ने साथ में पिज़्ज़ा और कोल्ड ड्रिंक शेयर की. हम तीनो नंगे ही थे. अब निक्की मेरे लंड को चूसने लगी और में अंजू मामी को किस करने लगा. निक्की के चूसने के बाद मैंने अपना लंड अंजू मामी की चूत में डाल दिया और उसके क्रॉस साईड को अंजू मामी की गांड के बिल्कुल पास गांड करके निक्की को खड़ा कर दिया. अब इसकी वजह से निक्की और अंजू मामी की चूत बहुत ही नज़दीक आ गयी.. तो में एक शॉट निक्की की चूत में मेरा लंड डालता और दूसरा शॉट अंजू मामी की चूत में डालता.. इससे दोनों को भी बहुत ही मज़ा आता.

अब निक्की अपनी गांड में उंगली करने लगी और अपनी उंगली को सूंघने लगी.. वैसे ही मामी ने भी करना शुरू कर दिया. दोनों की चूत मारने के बाद मैंने अंजू मामी को डॉगी स्टाईल में करके उनकी गांड मारी.. जिससे वो बहुत ही खुश हो गई थी. फिर मैंने निक्की की गांड भी उसी स्टाईल में मार दी और वो दोनों भी मेरी चुदाई से बहुत ही संतुष्ट हो चुकी थी. अब हम तीनों मिलकर रोज सेक्स धमाका करते है.

This story Maami aur uski beti ki sath chudai – group sex story in hindi appeared first on new sex story dot com

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments